Seo Ke Liye Kyu Important Hai [ Internal Linking ] Or Kya Hota Hai

Seo Ke Liye Kru Important Hai [ Internal Linking ] Or Kya Hota Hai
Seo Ke Liye Kyu Important Hai [ Internal Linking ] Or Kya Hota Hai


Hello Visitors,

Internal Linking का मतलब है की अपने नए Content में पुराने Published पोस्ट का Link Add करना। लेकिन उस नई Content में उसी content का Internal Links Add करे जो उससे मिलता जुलता है।

Internal Linking का में आपको एक जीता जागता Example देता हूँ।

अब आप इस निचे दी गई इमेज को देखे इसमें एक Article में उस Article से मिलते हुए कितने लिंक दे रखे है उसे ही हम Internal Linking कहते है।

Seo Ke Liye Kru Important Hai [ Internal Linking ] Or Kya Hota Hai
इंटरनल लिंकिंग 




[ On Page Seo ] Me Keyword Density Kya Hota Hai ( Hindi Me Jane )

( स इ ओ  ) क्या हैं SEO Kya hai or kitne type ka hota h in hindi tutorial 


और हम अपनी Website में Navigation मेनू में जो लिंक्स डालते है वो भी एक उदहारण है।

कितने Links Add कर सकते है :-

एक Article में Six Internal Links से जयादा नही डाले।

Website के हर पेज में Total Links Navigation Menu के साथ में 75 -100 से जयादा नही होना चाहिए।

Links कहाँ Add कर सकते है :-


Internal Links को वही Add करना चाहिए जहां जरूरत है। अगर आपके पास उस Article से मिलता जुलता पोस्ट नही है तो Link Add ना करे।

हमेसा New Article में पुराने Popular Articles के ही Links डाले और Popular Articles में नई Articles के Links डाले। ऐसे पोस्ट को Linking करे जो Post Internet पर वायरल है। ये एक ज्यादा Traffic पाने के तकनीक है। हमेसा अपने पोस्ट में लिंकिंग करे।


नोट: – अपने Keyword के Internal Links जानने के लिए आप Google भी हेल्प ले सकते है कैसे :-

अगर आपकी वेबसाइट है “www.couponsrecharge.com” और Keyword है “Seo kya hai”

तो आपको Google में कुछ इस तरीके से Type करना है।

उदहारण :- site:couponsrecharge.com “seo kya hai” और एंटर करे। निचे इमेज में देखे।


Seo Ke Liye Kru Important Hai [ Internal Linking ] Or Kya Hota Hai
SEO  में इंटरनल लिंकिंग क्या है 



Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *