Wednesday, 9 March 2016

Duplicate Content Kya Hota Hai Or Duplicate Content Kaise Check Kre Online


Duplicate Content Kya Hota Hai Or Duplicate Content Kaise Check Kre Online


Hello Visitors,



दोस्तों अभी तक हमने बहुत कुछ सिखा इस Website  के द्वारा ( http://www.couponsrecharge.com ) जैसे की :- Seo क्या है। , Keyword Density क्या है। Internal Linking क्या है। अगर आप ये सब अच्छे से समझ चुके है तो अब बारी है Duplicate Content ( चुराया हुआ पोस्ट या Article ) क्या है और हम इसे ऑनलाइन कैसे Check कर सकते है। आज इस Post में आप ये सब सिखने वाले है हालांकि में ये जनता हूँ की मेरे कुछ visitors ये सब जानते है और वो कुछ आगे की पोस्ट बहुत जयदा इंतजार भी कर रहे है। लेकिन मेरी माने तो किसी भी post को या बात बार बार पढ़ने से वो बात आप बहुत ही अच्छे से समझ जाते है। तो आये जानते है आज की इस Post में :- 



What is Duplicate Content ( Duplicate Content क्या होता है। ) :- 


2014 से 2016 तक बहुत से लोगो ने Blogging में अपना Carrier Start किया है और आगे भी रोजाना बहुत से Domain लिए जा रहे है। Domain हर कोई ले लेता है क्युकी Domain अब बहुत सस्ता हो चूका है मात्र 99 Rs में आप अपनी  खुद की website बना सकते है। इसी चक्कर में आज हर कोई website बना लेता है। अछा भी है मेरे सभी भाई बहने तरक्की कर रहे है। तो हम website तो बना लेते है लेकिन website बनाने के बाद हम उसमे कुछ पोस्ट भी कर देते है फिर हमारी इछा होती है की हम हमारा ज्ञान सभी को दे तो हमें पैसे भी मिले तो यहां आके बात ख़राब हो जाती है दोस्तों फिर कुछ Blogger किसी भी वेबसाइट से कोई नई Article या Post को Copy करके अपने ब्लॉग में डाल देते है इसे ही आम भासा में हम Duplicate Content भी कहते है। अगर आपको एक Professional Blogger बनना है तो आप अपने ब्लॉग में कभी कॉपी न करे।  एक Single Word भी नही।   



Duplicate Content से नुकसान होता है Blogger को  :- 



ü    Google Adsense Account से वंचित 
ü    Blogger Blogs से वंचित 
ü    Blogger Account बंद 
ü    YouTube Account बंद  
ü    हर जगह से Traffic  बंद  




Duplicate Content कैसे Check करे Online : -


दोस्तों आप इन सभी Website के जरिये अपने पोस्ट को देख सकते है की कहीं कोई आपका post चोरी तो नही कर रहा है।  









1 )  Copyscape



3 )  Plagspotter



5 )  Plagiarisma



6 )  Dupeoff



NEXT ARTICLE Next Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post
NEXT ARTICLE Next Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post
 

Delivered by FeedBurner